Breaking Crime Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

गोली लगने से जख्मी सौरभ बार-बार बदल रहा बयान : फायरिंग में युवक की हुई थी मौत, खुद हुआ था चोटिल

Varanasi : फूलपुर के मानापुर में शनिवार की रात तेजबहादुर (21) की हत्या में शक उसके दोस्त सौरभ पर ही गहरा रहा है। पुलिस की तफ्तीश में सामने आया कि सौरभ वारदात को लेकर कुछ छिपा रहा है।

जौनपुर के गोपालपुर के जिन युवकों पर आरोप लगा रहा है, उन युवकों से पूछताछ में कोई वजह निकलकर सामने नहीं आई है।

वहीं, बीएचयू ट्रामा सेंटर में भर्ती घायल सौरभ अपना बयान बार-बार बदल रहा है। सर्विलांस और दोनों के मोबाइल काल डिटेल खंगालने पर अहम साक्ष्य हाथ लगे हैं। फूलपुर थाने का काम देख रहे सब इंस्पेक्टर के अनुसार घटना की गुत्थी काफी हद तक सुलझ गई है।

पुलिस के अनुसार, फूलपुर थाना अंतर्गत बसनी गांव के बड़ेपुर निवासी सौरभ पटेल उर्फ किशन (22) सही जानकारी पुलिस को नहीं दे रहा है।

उसकी भूमिका संदिग्ध समझ में आ रही है। जब फायरिंग में घायल हुआ तो पुलिस को सूचना नहीं दी। एक घंटे बाद अपने परिजनों को सूचना दी कि गोली लगी है।

यही नहीं, परिजनों ने भी पुलिस को सूचित नहीं किया। अस्पताल में भी पुलिस को सौरभ ने नहीं बताया कि उसके दोस्त पर भी फायरिंग हुई है। घटनास्थल के निरीक्षण के दौरान तेजबहादूर का शव बरामद किया गया

उधर, बसनी दल्लोपुर निवासी तेजबहादुर (20) के परिजनों ने भी सौरभ की भूमिका पर सवालिया निशान खड़ा किया। थाना प्रभारी के अनुसार सौरभ से अब गहराई से पूछताछ की जाएगी। बीएचयू ट्रामा सेंटर में उसकी निगरानी बढ़ा दी गई है।

शानिवार की रात में सौरभ अपने भाई शरद को चिकित्सक के यहां उपचार कराने गया था। दोस्त तेजबहादुर को बाइक के संग बुलाया और भाई को लेकर चिकित्सक के यहां गया। दवा लेकर घर लौटा और फिर मां सुमन से कहा कि दोस्त को गांव के बाहर छोड़कर आता हूं।

रात आठ बजे मां सुमन और भाई शरद को फोन कर बताया कि चनौली बगीचे में गोली लग गई है। फूलपुर और बड़ागांव थाना के बार्डर स्थित मानापुर-चनौली मार्ग पर लहूलुहान हाल में पड़े किशन को लेकर परिजन निजी अस्पताल में पहुंचे, यहां से चिकित्सकों ने केस लेने से इंकार कर दिया। इसके बाद पिंडरा सीएचसी पर ले गए। चिकित्सकों ने गोली लगने की सूचना फूलपुर थाने को दी।

मौके पर पहुंचे फूलपुर थाना के कार्यवाहक प्रभारी दरोगा अभिषेक राय ने पूछताछ की। इसके बाद घायल को बीएचयू स्थित ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया।

फूलपुर पुलिस चनौली बगीचे में घटनास्थल का निरीक्षण करने पहुंची तो वहां 500 मीटर दूरी पर मानापुर गांव में औंधे मुंह तेजबहादुर का खून से लथपथ शव पड़ा हुआ था।

पास में बाबतपुर निवासी सोनू की टीवीएस बाइक भी गिरी पड़ी थी। तेजबहादुर को पीठ में गोली लगी थी।

You cannot copy content of this page