Breaking Crime Varanasi ऑन द स्पॉट 

स्कूलों की नहीं चलेगी मनमानी : परिवहन विभाग स्कूल प्रबंधन को भेज रहेा पत्र, स्कूली बसों में एक घंटे से ज्यादा रहा बच्चा तो कार्रवाई तय

Varanasi : स्कूली बच्चों को लेकर परिवहन विभाग ने पहल की है। अब बच्चे एक घंटे से अधिक समय तक स्कूली वाहनों में नहीं रहेंगे। घर से स्कूल और स्कूल से घर पहुंचने में एक घंटे से अधिक समय लगता है तो स्कूल प्रबंधन जिम्मेदार होगा। अभिभावक के शिकायत करने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ परिवहन विभाग कार्रवाई करेगा।

शिक्षा का व्यवसायी करण रोकने की विधान परिषद समिति ने विधानसभा परिषद में मामला उठाया तो परिवहन विभाग हरकत में आ गया। विभाग ने संभागीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक में प्रस्ताव तैयार कर रखा। हरी झंडी मिलने पर परिवहन विभाग ने स्कूल प्रबंधन पत्र भेजना शुरू कर दिया है।

शिक्षा का व्यवसायी करण रोकने की विधान परिषद समिति ने विधानसभा परिषद में मामला उठाया था कि बच्चों का स्कूल में पढ़ने में जितना समय लगता है उतना ही समय रास्ते में बीत जाता है। गर्मी के दिनों में बच्चे पसीने से तराबोर हो जाते हैं। कई बच्चों की तबीयत तक खराब हो जाती है।

बसों का मांगा रूट चार्ट

जिले के विभिन्न क्षेत्रों में अलग-अलग स्कूल है। ऐसे में स्कूल प्रबंधन से बसों का रूट चार्ट मांगा गया है। उसी के हिसाब से उन्हें एरिया परमिट दी जाएगी। तय परमिट से दूसरे क्षेत्र में चलने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। स्कूली बसों की सूची प्रवर्तन परिवहन अधिकारी के पास होगी। आरटीओ के शिखर ओझा ने बताया कि स्कूली बसों को अब स्कूल से 20 किलोमीटर के दायरे में चलने का एरिया परमिट दिया जाएगा। स्कूल प्रबंधन को दो माह की मोहलत दी गई है। उन्हें पत्राचार अवगत कराया जा रहा है। अभिभावक के शिकायत करने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

You cannot copy content of this page