Health Varanasi 

अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षित गर्भपात दिवस पर गोष्ठी : सुरक्षित गर्भपात के बाद देखभाल भी बेहद जरूरी

Varanasi : सुरक्षित गर्भपात और इसके पश्चात उसकी देखभाल करना बेहद जरूरी है। समुदाय में सुरक्षित गर्भ का चिकित्सीय समापन (एमटीपी) के बारे में जागरूकता का प्रचार करना और उससे जुड़ी सेवाएं प्रदान कराना विभाग का प्रमुख उद्देश्य है।

जनपद के सभी ब्लॉक स्तरीय पीएचसी, सीएचसी व एफ़आरयू पर सुरक्षित गर्भपात की सेवाएं 24 घंटे सातों दिन निःशुल्क मौजूद हैं।

यह बातें बुधवार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय सभागार में अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षित गर्भपात दिवस पर आयोजित गोष्ठी के दौरान कहीं गईं।

स्वास्थ्य विभाग के तत्वावधान में फोग्सी व आईपास की एमटीपी समिति के सहयोग से आयोजित गोष्ठी की अध्यक्षता सीएमओ डॉ. संदीप चौधरी ने की।

उन्होंने कहा कि जागरूकता के अभाव से लगभग दो तिहाई गर्भपात अधिकृत स्वास्थ्य केन्द्रों से बाहर अनाधिकृत व अकुशल लोगों द्वारा संपन्न कराए जाते हैं।

सुरक्षित एमटीपी के लिए गोपनीय परामर्श को सुगम बनाने और इसके बारे में परामर्श देने के लिए एएनएम, आशा कार्यकर्ता व अन्य स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया गया है। आशा गोपनीयता बरतते हुए एएनएम को सूचित करती हैं, इसके पश्चात यह प्रक्रिया आगे बढ़ती है।

You cannot copy content of this page