Breaking Exclusive Varanasi ऑन द स्पॉट धर्म-कर्म पूर्वांचल 

गंगा में चलेगा सौर ऊर्जा से संचालित देश का पहला मिनी लग्जरी क्रूज : विशेष तौर पर काशी विश्वनाथ धाम के दर्शन के लिए व्यवस्था, एक बार में 25-30 यात्री कर सकेंगे सवारी

Varanasi : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की दूरदृष्टि और प्लानिंग का ही नतीजा है कि काशी का विकास मॉडल देशभर में चर्चा का विषय बना हुआ है।

पब्लिक ट्रांसपोर्ट के लिए देश में पहली बार रोपवे सेवा वाराणसी में शुरू होनी है। इसके अलावा सौर ऊर्जा से संचालित मिनी लग्जरी क्रूज़ भी देश में पहली बार काशी में संचालित करने की योजना पर काम शुरू हो गया है।

ये क्रूज विशेष तौर पर उन दर्शनार्थियों के लिए होगा जो काशी विश्वनाथ धाम का दर्शन करना चाहते हैं।

गंगा में प्रदूषण कम करने की कवायद में एक बड़ा प्रस्ताव जल्द आने वाला है। वाराणसी में पहले से चल रहे अलकनंदा क्रूज लाइन प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक विकास मालवीय ने बताया कि जल्द ही गंगा में सोलर एनर्जी से चलने वाला मिनी लग्जरी क्रूज लाने की प्लानिंग है, जो सिर्फ काशी विश्वनाथ धाम के दर्शन कराएगा।

विकास मालवीय ने बताया कि नमो घाट और संत रविदास घाट से दो मिनी लक्ज़री क्रूज़ के संचालन का प्रस्ताव सरकार के पास भेजा जा रहा है। मंजूरी मिलते ही दर्शनार्थियों के लिए क्रूज का संचालन शुरू कर दिया जाएगा।

काशी को प्रदूषण मुक्त करने के लिए पहले से गंगा में सीएनजी बोट और पब्लिक ट्रांसपोर्ट लिए सड़क पर इलेक्ट्रिक बसें चल रही हैं। वहीं पब्लिक ट्रांसपोर्ट के लिए रोपवे भी बनने जा रहा है।

अब सौर ऊर्जा से चलने वाला मिनी लक्ज़री क्रूज भी पर्यावरण संरक्षण में काफी सहायक होगा। पंद्रह से बीस किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्त्तार से चलने वाले इस क्रूज में एक बार में करीब 25 से 30 लोग सवार हो सकेंगे।

पूरा क्रूज वातानुकूलित होगा। इसमें कैफिटेरिया और बायो टॉयलेट के साथ ही सुरक्षा के अंतरराष्ट्रीय मानकों का पालन किया जाएगा।

You cannot copy content of this page