Health Varanasi पूर्वांचल 

SSPG चिकित्सालय हुआ एनक्वास सर्टिफाइड : ऑपरेशन थियेटर, आपातकालीन सुविधाओं सहित आठ विभागों को मिले 81 फीसद अंक

Varanasi : चिकित्सीय और स्वास्थ्य सुविधाओं का लगातार विस्तार हो रहा है। इसका सुखद परिणाम यह है कि कबीरचौरा स्थित शिवप्रसाद गुप्ता (एसएसपीजी) मंडलीय चिकित्सालय को केंद्र सरकार ने नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैन्डर्ड (एनक्वास) सर्टिफाइड घोषित कर दिया है। इस उपलब्धि से मंडलीय चिकित्सालय पूर्वांचल का पहला मण्डलीय चिकित्सालय बन गया है। इससे पहले बड़ागांव प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को एनक्वास सर्टिफिकेट मिल चुका है।

जनपद के एक और चिकित्सालय को एनक्वास सर्टिफिकेट मिलने से स्वास्थ्य विभाग में खुशी की लहर छा गयी है। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा सहित चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण वाराणसी मण्डल के अपर निदेशक (स्वास्थ्य) डॉ. शशिकांत उपाध्याय, प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक (एसआईसी) डॉ. प्रसन्न कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ. संदीप चौधरी, समस्त विभाग ने एनक्वास के मानकों पर खरे उतरने एवं सर्टिफेकेट मिलने की खुशी जाहिर की। इसके साथ ही उन्होंने मण्डलीय चिकित्सालय के समस्त स्टाफ को बधाई दी।

पूर्वांचल का पहला मण्डलीय चिकित्सालय

एसएसपीजी मण्डलीय चिकित्सालय को एनक्वास सर्टिफिकेट मिलने में मंडलीय सलाहकार डॉ. आरपी सोलंकी ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इस उपलब्धि से मण्डलीय चिकित्सालय पूर्वांचल का पहला मण्डलीय चिकित्सालय बन गया है। इसके साथ ही चिकित्सालय को अब अगले तीन साल तक प्रति बेड 10,000 रुपये की धनराशि प्रदान की जाएगी जिससे चिकित्सीय व स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार, सुदृढ़ीकरण किया जा सके। उन्होंने बताया कि मंडलीय चिकित्सालय में वाराणसी के आसपास जिलों जैसे गाजीपुर, मिर्जापुर, भदोही, सोनभद्र, चंदौली, जौनपुर से मरीज इलाज के लिए आते हैं।

इन आठों विभागों में मिले 81 फीसदी अंक

डॉ सोलंकी ने बताया कि एसएसपीजी चिकित्सालय के सभी आठों विभागों अंतः रोगी विभाग, पैथोलॉजी विभाग, ब्लड बैंक, रेडियोलॉजी विभाग, ऑपरेशन थियेटर, आपातकालीन विभाग, जनरल एडमिनिस्ट्रेशन, अतिरिक्त सेवा विभाग के साथ-साथ बायोमेडिकल कचरा प्रबंधन, साफ-सफाई, खानपान की व्यवस्था व अन्य सुविधाओं में 81 फीसदी अंक हासिल किए हैं।

तीन बार हुआ निरीक्षण

डॉ. सोलंकी ने बताया कि एनक्वास के तहत मण्डलीय चिकित्सालय का तीन बार निरीक्षण किया गया। पहला जिला स्तर (अंतर्भागीय), दूसरा राज्य (यूपी) स्तर एवं तीसरा अंतिम निरीक्षण केंद्र स्तरीय टीम द्वारा पिछले माह किया गया। इसमें चिकित्सालय को क्रमशः 74 फीसद, 79 फीसद व 81℅ अंक प्राप्त हुये।

तीन बार मिल चुका है कायाकल्प पुरस्कार

डॉ. सोलंकी ने बताया कि एनक्वास अवार्ड मिलने से पहले एसएसपीजी चिकित्सालय को तीन बार कायाकल्प पुरस्कार भी मिल चुका है।

चिकित्सालय में मौजूद सुविधाएं

  • रेडियोलॉजी की इलेक्ट्रॉनिक व मैनुअल सुविधा
  • पैथोलॉजी जांच
  • 24 घंटे ब्लड बैंक की सुविधा
  • एक्सरे जांच
  • 24 घंटे आपातकालीन सुविधाएं
  • आईसीटीसी
  • प्लास्टर कक्ष
  • फिजियोथेरेपी
  • ऑपरेशन थियेटर
  • ईसीजी
  • ईएनटी
  • ट्रूनाट व आरटीपीसीआर लैब
  • डायलिसिस सेवा
  • आयुष विंग
  • मातृ व शिशु स्वास्थ्य सुविधाएं
  • एनसीडी क्लीनिक
  • एआरवी क्लीनिक
  • डेंगू/H1N1 के लिए आइसोलेशन वार्ड
  • टीबी जांच
  • तम्बाकू नियंत्रण परामर्श
  • किशोर-किशोर स्वास्थ्य क्लीनिक
  • वृद्धजन व मानसिक स्वास्थ्य सेवाएं
  • दंत, आंख जांच और उपचार
  • त्वचा और आर्थो सर्जरी
  • जनरल सर्जरी व एनैस्थिसियोलॉजी
  • औषधीय

You cannot copy content of this page