Breaking Crime Varanasi 

Varanasi में रोहनिया थाने पर पत्थरबाजी, विरोध करने वालों ने जाम किया रास्ता

कच्ची शराब बनाने वाले आरोपियों को छुड़ाने पहुंचे थे ग्रामीण

फोर्स ने लाठियां फटकार कर संभाली स्थिति

Varanasi : रोहनिया थाने पर भवानीपुर गांव के लोगों ने बुधवार को कच्ची शराब बनाने वाले आरोपियों को छुड़ाने के लिए जमकर हंगामा किया। थाने के सामने चक्काजाम कर पुलिस पर पथराव किए जाने की जानकारी पर एसपी देहात एमपी सिंह सहित कई थानों की फोर्स पहुंची। उपद्रव कर रहे ग्रामीणों को खदेड़ कर जाम खत्म कराया। एसपी देहात ने बताया कि इस मामले में पकड़े गए एक आरोपी के भाई व बसपा नेता भृगुनाथ पटेल को पुलिस ने हिरासत में लिया है। बसपा नेता पर आरोप है कि उसने लोगों को उकसा कर उपद्रव कराया। पुलिस ने इस मामले में कुछ अन्य लोगों को भी पकड़ा है। सभी के खिलाफ विधिक कार्रवाई की जा रही है।

दरअसल, भवानीपुर निवासी बृजनाथ पटेल को लॉकडाउन के दौरान 17 अप्रैल रोहनिया पुलिस ने कच्ची शराब बनाने के मामले में पकड़ा था। जांच में भवानीपुर के विजय कुमार पटेल व इंद्रजीत पटेल का नाम भी सामने आया था। बाद में तीनों के खिलाफ धारा 60, 63 व 272 के तहत मुकदमा कायम किया गया था। सितंबर महीने में तीनों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई हुई थी। रोहनिया पुलिस को पता चला कि तीनों मौजूदा समय में भी कच्ची शराब बनाने का धंधा कर रहे हैं।

थाना प्रभारी परशुराम त्रिपाठी ने बताया कि पुलिस तीनों को हिरासत में लेकर पूछताछ के लिए थाने लाई। अभियुक्त बृजनाथ पटेल का भाई बसपा नेता भृगुनाथ पटेल गांव की महिला और पुरुषों के साथ थाने पहुंच कर हंगामा करने लगा। पुलिस ने जब लोगों को समझाने की कोशिश की तो उन्होंने पथराव कर रोड जाम कर दिया। एसपी देहात आसपास के थानों की पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। उपद्रव कर रहे लोगों को लाठी पटक कर खदेड़ा गया। रोहनिया थाने के सामने चक्काजाम के कारण मोहनसराय- कैंट मार्ग पर तकरीबन एक घंटे तक जाम की स्थिति बनी थी।

बसपा नेता ने उकसा कर कराया पथराव

एसपी देहात ने बताया कि पुलिस के द्वारा हिरासत में लिए गए बृजनाथ पटेल के भाई बसपा नेता भृगुनाथ पटेल ने लोगों को उकसा कर रोहनिया थाने पर पथराव और चक्काजाम कराया था। पुलिस ने भृगुनाथ पटेल को भी हिरासत में ले लिया गया है। पथराव और चक्काजाम करने वाले अन्य लोगों को भी चिन्हित किया जा रहा है। सभी के खिलाफ मुकदमा कायम कर कार्रवाई की जाएगी।

लोगों ने कहा

उधर, लोगों का आरोप है कि कच्ची शराब बनाने के मामले में आरोपी बृजनाथ पटेल सहित अन्य आरोपियों के परिजनों ने जब पुलिस से उन्हें हिरासत में लिए जाने के बाबत जानकारी मांगी तो इंस्पेक्टर परशुराम त्रिपाठी सहित थाने में मौजूद दरोगा उन्हें गालियां देते हुए थाने से भगाने लगे। लोगों ने विरोध किया तो पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। नाराज लोगों ने थाने के सामने ही रोड जाम कर दिया।

error: Content is protected !!