Breaking Crime Lucknow Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

संगम, महावीर, एंजल इंटरप्राइजेज सहित आठ फर्जी कंपनियों के नाम से UP के कई सरकारी दफ्तरों और CMO ऑफिस में सप्लाई : लाखों रुपये का नकली सेनेटाइजर बरामद किया, आरोपी फरार

Varanasi : खाद्य सुरक्षा और औषधि विभाग की टीम ने शिवपुर थाना क्षेत्र के बड़ालालपुर के VDA कॉलोनी के एक मकान में छापा मार कर नकली सेनेटाइजर बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया। फूड सेफ्टी एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन के सहायक आयुक्त के.जी. गुप्ता ने बताया कि उन्हें सूचना मिली कि बड़ालालपुर के VDA कॉलोनी में नकली सेनेटाइजर बनाया जा रहा है।

सहायक आयुक्त के निर्देशन में मंगलवार को औषधी निरीक्षक अमित बंसल और संजय दत्त ने छापा मार कर तकरीबन तीन लाख रुपये का नकली सेनेटाइजर बरामद किया। आरोपी फरार हो गया। सहायक आयुक्त के.जी. गुप्ता ने बताया कि यह गिरोह अत्यंत शातिराना तरीके से अपने काम को अंजाम देता रहा। यहां कई नामी कंपनियों के नाम पर सेनेटाइजर बनाते थे।

एक नामी कंपनी के अधिकारी से पूछने पर उन्होंने बताया कि बरामद सेनेटाइजर उनकी कंपनी का नहीं है। सहायक आयुक्त ने बताया कि इन गिरोह का संचालक इतना शातिर है कि वह फतेहपुर, बांदा, जौनपुर, सोनभद्र सहित उत्तरप्रदेश के ज्यादातर जगहों के सीएमओ ऑफिस में सेनेटाइजर, सिरिंज और कैथेरेटर की सप्लाई बिना ड्रग लाइसेंस के गवर्नमेंट ई-मार्केटिंग के जरिये कर रहा था।

छापा स्थल से बरामद कागजात से मालूम चला कि संगम इंटरप्राइजेज, महावीर इंटरप्राइजेज, एंजल इंटरप्राइजेज सहित लगभग आठ फर्जी कंपनियों के नाम से सप्लाई का काम हो रहा था।

मकान मालिक अजय दीक्षित ने बताया कि उसने अजीत सिंह पुत्र दुर्गा प्रसाद को यह मकान किराए पर दिया है। छापा पड़ने की भनक लगते ही वहां मौजूद सभी आरोपी फरार हो गए। खाद्य निरीक्षक अमित बंसल और संजय दत्त ने शिवपुर थाने में मुकदमा कायम कराया है।

You cannot copy content of this page