Lockdown : 33 परसेंट फॉर्मूला के आधार पर डीरेका में सेवायें शुरू

Varanasi : डीजल रेल इंजन कारखाना (डीरेका) सोमवार से रुके हुए कार्यालयी कार्य को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए पुनः खोला गया है। लगभग 43 दिन के अंतराल के पश्चात डीरेका प्रशासन द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि डीरेका उपनगर के आवासों में रहने वाले कर्मचारियों से ही अधिकतम 33 परसेंट फॉर्मूला के आधार पर सेवायें ली जाय।

कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत कार्यालय समय को तीन भागों में बांटा गया है, ताकि प्रवेश द्वार पर एक समय में भीड़ इकट्ठी न हो । मुख्य द्वार एवं कार्यालय में दो मीटर के सामाजिक दुरी की व्यवस्था की गई है तथा प्रवेश द्वार पर सभी कर्मचारियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। साथ ही, सभी कार्यस्थलों, प्रवेश द्वारों आदि जगहों पर समय-समय पर सेनिटाइजेशन की व्यवस्था की गई है। कोविड-19 के कारण भारत सरकार के निर्देशानुसार डीरेका लगभग 43 दिन से बंद था। किंतु आवश्यक सेवाएं जैसे, सिविल, विद्युत, सुरक्षा, चिकित्सा इत्यादि सेवाएं अनवरत चालू रही। इस आशय की जानकरी डीरेका के मुख्य जनसपंर्क अधिकारी नितिन मेहरोत्रा ने दी है।