Breaking Crime Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

नहीं थम रहा बाहरी लोगों के गंगा में डूबने का सिलसिला : बनारस में डूबकर जौनपुर के युवक की मौत, चाचा के साथ आया था दर्शन-पूजन करने

Varanasi : गंगा की गहराई की जानकारी न होने की वजह से घाट किनारे नहाने पहुंचने वाले बाहरी लोगों की डूबने से मौत का सिलसिला जारी है। सिंधिया घाट पर बुधवार की शाम एक और युवक की डूबने से मौत हो गई। युवक अपने चाचा और भाइयों के साथ काशी दर्शन और गंगा स्नान के लिए आया था।

चश्मदीदों के मुताबिक, नहा रहे तीन लोग डूबने लगे। दो को बचा लिया गया। एक को नहीं बचाया जा सका। पहुंची चौक पुलिस ने लाश पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

SHO चौक शिवाकांत मिश्रा ने बताया कि शाम तकरीबन 5 बजे आरक्षी राम प्रताप ने बताया कि एक युवक सिंधिया घाट पर गहरे पानी में जाने की वजह से डूब गया है। ब्रह्मनाल चौकी इंचार्ज फोर्स के साथ पहुंचे। डूबे युवक की लाश को मल्लाहों की मदद से बाहर निकलवाया।

इंस्पेक्टर ने बताया कि शाही प्रताप साहू निवासी गुतवन नेवड़िय जौनपुर अपने भतीजे नितेश साहू , सागर गुप्ता और संजय गुप्ता के साथ श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन के लिए आए थे। दर्शन के पहले सिंधिया घाट पर तीन लोग नहाने गए। गहरे पाने में जाने के से तीनों लोग डूबने लगे। आवाज सुनकर गोताखोरों ने दो लोगों को बचा लिया। नितेश साहू (19) पुत्र संतोष कुमार साहू डूब गया। नितेश की लाश को जल पुलिस और गोताखोरों की मदद से ढूंढ कर निकला गया।

अबतक आधा दर्जन से ज्यादा लोग डूब कर मरे

याद होगा, हालिया कुछ महीनों में तुलसी घाट, खिड़किया घाट, ललिता घाट और सामने घाट पर डूबने से आधा दर्जन से ज्यादा बाहरी लोगों की मौत हो चुकी है।

You cannot copy content of this page