Breaking Crime Education Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

BHU लाइब्रेरी में किया था झगड़ा : चार छात्र निलंबित, 19 को चेतवानी, नहीं दे पाएंगे सेमेस्टर परीक्षा

Varanasi : काशी हिंदू विश्वविद्यालय की साइबर लाइब्रेरी में अप्रैल और मई महीने में हुई मारपीट, ताला तोड़ने की घटना में चार छात्रों को दोषी करार देते हुए अनुशासनात्मक कार्रवाई की गई है।

चारों छात्रों को छह महीने के लिए निलंबित किया गया है, जबकि 19 को चेतावनी जारी की गई है। विश्वविद्यालय परिसर स्थित लाइब्रेरी में मारपीट के साथ ही लाइब्रेरी के द्वार को बंद कर दिया गया था।

उस घटना की जांच के बाद अब कुलसचिव कार्यालय की ओर से छात्रों का निलंबन आदेश जारी किया गया है।

स्थायी समिति की अनुशंसा के आधार पर बीए ऑनर्स कला संकाय के छात्र श्रेष्ठतम उपाध्याय, बिट्टू बाबू, अंकित पाल और रौनक मिश्रा को छह माह के लिए निलंबित करते हुए विश्वविद्यालय की सभी सुविधाओं से वंचित कर दिया गया है। इसके साथ ही निलंबित विद्यार्थी सेमेस्टर परीक्षा भी नहीं दे पाएंगे।

समिति की अनुशंसा पर कुलपति ने भी अपनी मुहर लगा दी है। बीएचयू प्रशासन की ओर से 19 छात्रों को चेतावनी भी जारी की गई है।

इन छात्रों को चेतावनी

सामाजिक विज्ञान संकाय से सोनू कुमार, अभिषेक चंदेल, कला संकाय से सचिन शर्मा, विकास कुमार, अविनाश सिंह, विनीत मिश्रा, अमन सिंह, शैलेष सिंह, ऋषभ राज, हर्षित गुप्ता, मेहुल सिंह राठौर, रोशन शाही, शिवशक्ति कुमार, वसीम अंसारी, बिपिन राजभर, परमदीप पटेल का नाम चेतावनी पाने वाले छात्रों में शामिल है। इसके अलावा शारीरिक शिक्षा विभाग से दिनेश यादव, सुमित सिंह और शोध छात्र अजय कुमार भारती को भी चेतावनी जारी की गई है कि भविष्य में अनुशासनहीनता की किसी भी घटना पर और कठोर कार्रवाई की जाएगी।

You cannot copy content of this page