Health Varanasi 

Varanasi के इस शहरी PHC को दूसरी बार कायाकल्प अवार्ड : बोले CMO- संयुक्त प्रयासों से ही मिलती है बड़ी सफलता

Varanasi : शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मंडुआडीह को लगातार दूसरी बार कायाकल्प अवार्ड प्राप्त हुआ है। इस अवसर पर आयोजित समारोह में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. संदीप चौधरी ने कहा कि लगन और ईमानदारी से किया गया संयुक्त प्रयास बड़ी सफलता दिलाता है। उन्होंने कहा कि इस स्वास्थ्य केंद्र के सभी स्वास्थ्यकर्मी बधाई के पात्र हैं जिनकी कड़ी मेहनत और संयुक्त प्रयासों ने इस पीएचसी को ‘कायाकल्प अवार्ड दिलाया।

कायाकल्प एवार्ड प्राप्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले पीएचसी मंड्डआडीह के स्वास्थ्यकर्मियों को प्रशास्तिपत्र प्रदान करते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि आप सभी के समर्पणभाव से किये गये कार्यो का ही नतीजा है कि वर्ष 2019-20 के बाद वर्ष 2020-21 का भी कायाकल्प अवार्ड शहरी पीएचसी मंडुआडीह के नाम हुआ। उन्होंने कहा आप सभी इसी तरह परिश्रम से कार्य करते रहेंगे तो पूरी उम्मीद है कि वर्ष 2021-22 का भी कायाकल्प अवार्ड पीएचसी मंडुआडीह के नाम हो सकता है।

समारोह में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी व नोडल अधिकारी डॉ. एके मौर्य ने कहा कि कुछ वर्ष पूर्व एक कमरे और दो कर्मचारियों के साथ शुरू हुआ इस स्वास्थ्य केंद्र को लगातार कायाकल्प अवार्ड का मिलना खुद ही बताता है कि यहां के स्वास्थ्यकर्मी कितनी कड़ी मेहनत करते हैं। उन्होंने कहा कि वह दिन दूर नहीं जब यहां और भी चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

समारोह में पीएचसी मंडुआडीह की प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. ममता पांडेय ने कहा कि राष्ट्रीय स्वच्छता मिशन के निर्धारित मापदण्डों व अन्य मानकों को पूरा करने का ही नतीजा रहा कि शहरी पीएचसी मंडुआडीह को यह सम्मान प्राप्त हुआ है। उन्होंने उम्मीद जतायी कि यहां के स्वास्थ्यकर्मियों की टीम भविष्य में भी इसी तरह लगन से काम करती रहेगी। मण्डलीय सलाहकार डॉ. आरपी सोलंकी ने कहा कि यह सम्मान इस पीएचसी की पूरी टीम की मेहनत का परिणाम है।

इसके लिए यहां काम कर रहा हर एक स्वास्थ्यकर्मी बधाई का पात्र है। कार्यक्रम का संचालन मयंक राय ने किया। समारोह में डीएचईआईओ हरिवंश यादव, अर्बन कोआर्डिनेटर आशीष सिंह, पीसीआई की प्रीति पाठक, अखिलेश सिंह के अलावा कमल तिवारी मौजूद थे।

You cannot copy content of this page