Crime Delhi Lucknow Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

ठगों के फेर में न पड़ने की CP ए. सतीश गणेश ने की गुजारिश : दिल्ली सचिवालय में नौकरी दिलाने के नाम पर ठग ने लिए थे सात लाख रुपये, पुलिस पकड़ कर लाई बनारस

Varanasi : बेरोजगारी के दौर में सरकारी नौकरी का लालच देकर ठग लोगों से ठगी कर रहे हैं। इसी तरह की एक शिकायत वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस को मिली। लंका थाने में मुकदमा कायम हुआ। दिल्ली सचिवालय में जॉब के दिलाने नाम पर सात लाख रुपये की ठगी के मामले में पुलिस ने ठग को गिरफ्तार किया है। शिकायत मिलने के 48 घंटे के भीतर ठग को दिल्ली के द्वारिका इलाके से उठा लिया गया।

पुलिस शुक्रवार की सुबह ठग हेमंत को लेकर ट्रांजिट रिमांड पर वाराणसी पहुंची। SHO लंका वेद प्रकाश राय ने बताया कि हेमंत को कोर्ट में पेश कराया गया है। पुलिस उसे रिमांड पर लेने के फेर में लगी है।

CP ए. सतीश गणेश ने बताया कि दिल्ली सचिवालय में नौकरी दिलाने के नाम पर दिल्ली के रहने वाले हेमंत ने लंका थाना क्षेत्र निवासी राजबहदुर को अपने झांसे में ले लिया था। ठगी का जाल बुनकर राजबहादुर को बताया कि वह शॉर्टलिस्टेड हो गया है। नौकरी के लिए पर उसके पहले उसे सात लाख रुपये देने होंगे। राजबहादुर ने उसे सात लाख रुपये दे दिए।

तीन साल पहले सात लाख रुपये लेकर नौकरी की बात करने वाला हेमंत, राजबहादुर को हर बार नौकरी की ज्वाइनिंग के लिए टाल रहा था। आजिज आकर राजबहादुर ने शिकायत की। लंका थाने पर मुकदमा कायम कर हेमंत की तलाश शुरू की गयी। ट्रेस किया गया। दिल्ली के द्वराका इलाके में लोकेशन मिलने पर उसे पुलिस ने वहां से गिरफ्तार कर लिया। आज सुबह वाराणसी ट्रांजिट रिमांड पर ले आया गया है।

ठगों के फेर में न पड़ें

CP ए. सतीश गणेश ने लोगों से अपील की है कि वो ठगों से सावधान रहें और यदि किसी अन्य के साथ भी ऐसी घटना हुई हो तो वह आकर FIR दर्ज करवा सकता है।

You cannot copy content of this page