Health Varanasi 

12 से 14 साल के बच्चों का टीकाकरण : Varanasi में 12 साल के रामकृष्ण को लगा पहला टीका, होली बाद चलना है Mass vaccination campaign

Varanasi : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में 12 से 14 साल के बच्चों को कोविड टीका लगाने की शुरूआत बुधवार को हो गयी। पहले दिन 18 बच्चों को कोरोना से बचाव का टीका लगाकर टीकाकरण की औपचारिक शुरुआत की गई। होली बाद वृहद अभियान चलाकर 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों का कोविड टीकाकरण किया जाएगा।

जिले में 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों के टीकाकरण की औपचारिक शुरुआत शहरी सीएचसी दुर्गाकुंड में हुई। यहां स्टाफ नर्स नीलम मौर्य ने कबीरनगर निवासी 12 वर्षीय रामकृष्ण रस्तोगी को कोर्बेवैक्स की पहली खुराक देकर इस आयु वर्ग के टीकाकरण की शुरुआत की। इसके साथ ही इंतजार कर रहे अन्य बच्चों ने भी कोर्बेवैक्स टीका लगवाया। इस दौरान जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. वीएस राय, उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुरेश सिंह, वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डॉ. एके पाण्डेय, डीएचईआईओ हरिवंश यादव, सीएचसी दुर्गाकुंड की अधीक्षक डॉ. सारिका राय के अलावा स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे।

होली बाद चलेगा वृहद टीकाकरण अभियान

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. वीएस राय ने बताया कि 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों के टीकाकरण की महज औपचारिक शुरूआत की गयी है। जिस तरह से उत्साह देखने को मिला इससे साफ है कि ये बच्चे काफी समय से इसका इंतजार कर रहे थे। होली बाद इस आयु वर्ग के सभी बच्चों के टीकाकरण के लिए वृहद अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिले में 12 से 14 वर्ष के लगभग 1.55 लाख बच्चे है। हमारा लक्ष्य है कि इन सभी का जल्द से जल्द टीकाकरण कर लिया जाए। डॉ. राय ने बताया कि आज जिन बच्चों को कोर्बेवैक्स की पहली खुराक दी गयी है उन्हें 28 दिन बाद दूसरी डोज दी जाएगी। उन्होंने बताया कि जिले में अबतक कोविड टीके की 5903950 डोज लगाई जा चुकी है। इनमें 15 से 17 आयु वर्ग के किशोर-किशोरी भी शामिल है। इन किशोर-किशोरियों में 226907 को पहली डोज (88.0%) और 131040(50.8%) को दूसरी डोज भी लगायी जा चुकी है।

उन्होंने बताया कि 15 से 17 आयु वर्ग के किशोर-किशोरियों के टीकाकरण का अभियान गत तीन जनवरी को शुरू किया गया था, जिसमें बहुत जल्द ही लक्ष्य के प्रति सफलता हासिल कर ली गयी। इसी तरह 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों के लिए वृहद टीकाकरण अभियान चलाकर हम जल्द ही शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने में कामयाब होंगे। उन्होंने बताया कि ऐसे समस्त बच्चे जिनकी जन्म तिथि 15 मार्च 2010 से पहले की है उन्हें कोर्बेवैक्स टीका लगेगे लेकिन वर्ष 2005 से 2007 तक में जन्मे बच्चों को कोवैक्सीन से ही आच्छादित किया जाएगा।

You cannot copy content of this page