Breaking Crime Varanasi उत्तर प्रदेश 

Varanasi Breaking : बसंतपुर प्रकरण में लापरवाही करने पर नपे सिंधौरा थाना प्रभारी, SP देहात ने SHO रमेश यादव को किया सस्पेंड

Varanasi : SP देहात अमित वर्मा ने लापरवाही बरतने पर बुधवार की रात थाना प्रभारी निरीक्षक सिंधौरा रमेश यादव को सस्पेंड कर दिया। पुलिस कार्यालय देहात की ओर से जानकारी दी गई है कि, बसंतपुर में हुई घटना के मामले में थाना प्रभारी निरीक्षक रमेश यादव ने लापरवाही की थी। दायित्वों का निर्वहन करने के मामले में मनमानी करने पर थाना प्रभारी को पुलिस अधीक्षक देहात ने सस्पेंड कर दिया। युवक की मौत के बाद कायम मुकदमे में धारा की बढ़ोतरी कर पुलिस हमलावरों की तलाश कर रही है।

इससे पहले शाम को मृत युवक के परिजनों ने थाने के बाहर पुलिसिया लापरवाही का आरोप लगाया था। परिवार के साथ अन्य लोगों के विरोध करने की जानकारी पर देहात के कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गई थी। अफसरों ने समझा-बुझाकर किसी तरीके से परिवार के लोगों को शांत किया।

दरअसल, सिधौरा थाने के बसंतपुर में 21 जून को दिन में तकरीबन 2.30 बजे जमीनी विवाद में हुई मार में जख्मी युवक की BHU ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान मौत हो गई। युवक की मौत की जानकारी मिलने के बाद अहतियात गांव में फोर्स की तैनाती की गई थी।

याद होगा, आबादी की जमीन दो पक्षों ने सहमति से रास्ता बनाया था। आरोप है, एक पक्ष के लोगों ने रास्ते पर हैंडपंप लगाकर रास्ता रोक कर दिया।

हैंडपंप लगवाने का विरोध अश्वनी शर्मा (24) ने की थी। विवाद मारपीट में तब्दील हो गई थी। अश्वनी शर्मा को झगड़े में गंभीर चोट आई थी।

इलाज के लिए अश्वनी को BHU ट्रामा सेंटर में एडमिट कराया गया था। बुधवार को अश्वनी की जान चली गई। गांववालों ने बताया कि, नवंबर में अश्वनी की शादी होने वाली थी। दो भाईयों में अश्वनी छोटा था। बड़े भाई पंकज शर्मा मुंबई में रहते हैं। मौत की जानकारी होने पर पंकज बनारस पहुंचे।

झगड़े के बाद अश्वनी शर्मा के पिता बलिराम शर्मा ने तीन लोगों के खिलाफ 323, 504 और 506 का मुकदमा कायम कराया था। अश्वनी के मौत की जानकारी मिलने के बाद हमलावर पक्ष के लोग फरार हैं। पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। हमलावरों की तलाश की जा रही है।

You cannot copy content of this page