COVID-19 Health Varanasi 

Varanasi : बढ़ते Covid मामलों को लेकर DM सख्त, बोले 60 साल से ऊपर के मरीज होंगे भर्ती, विरोध पर होगा FIR

Varanasi : जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने अपर जिला मजिस्ट्रेट नगर, पुलिस अधीक्षक नगर, सभी अपर नगर मजिस्ट्रेट, सभी पुलिस क्षेत्राधिकारी सहित प्रभारी निरीक्षक एवं थानाध्यक्षों को निर्देशित करते हुए बताया है कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी के परामर्श के अनुसार जनपद में कई ऐसी मृत्यु हो रही है, जिनमें लोग कोविड पोजीटिव पाये जाते हैं, परन्तु अस्पताल में भर्ती नहीं हुए हैं। जब इनकी ज्यादा तबियत खराब हो जाती है तभी वह अस्पताल जाते हैं और वहाँ उनकी मृत्यु हो जा रही है।

इसको देखते हुए चिकित्सा विभाग की आरआरटी टीम द्वारा भी अधिकांश ऐसे मामलों में अस्पताल में मरीज को भर्ती कराने की सलाह दी जाती है, परन्तु फिर भी ऐसे लोग अस्पताल में भर्ती नहीं हो रहे हैं और अपने जीवन को खतरा उत्पन्न करते हैं।

डीएम ने उपरोक्त सम्बन्ध में महामारी अधिनियम 1897 (अधिनियम संख्याः 3 सन् 1897) के सुसंगत प्राविधानों के अन्तर्गत आदेश दिया हैं कि 60 वर्ष से ऊपर कोई भी व्यक्ति यदि कोविड पोजीटिव होगा अथवा प्रत्येक व्यक्ति जो ब्लड प्रेशर डाइविटीज अस्थमा या अन्य Comorbidity आदि से ग्रसित होगा, कोविड Symptomatic होगा, ऐसे सभी लोगों को अनिवार्यतः अस्पताल में भर्ती कराकर उपचार प्रदान किया जायेगा।

भर्ती के उपरांत यदि Symptom आदि नहीं होंगे, तो अस्पताल में भर्ती होने के उपरान्त चिकित्सक की परामर्श के अनुसार होम आइसोलेशन के लिए अनुमति प्रदान की जा सकती है, परन्तु शुरूआत में प्रत्येक श्रेणी के व्यक्ति को अस्पताल में स्थानान्तरण अनिवार्य होगा। उन्होंने उक्त अधिकारियों को आदेश का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाने का निर्देश दिया है।

विशेष रूप से जोर देते हुए कहा है कि यदि किसी भी व्यक्ति द्वारा इस आदेश का उल्लंघन किया जाता है तो उसके विरूद्ध महामारी अधिनियम 1897 के सुसंगत प्राविधानों के अन्तर्गत प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करायी जाये। इसके साथ ही जो व्यक्ति स्वयं का जीवन, अपने परिवार के सदस्यों का जीवन तथा अपने आस-पास के लोगों के जीवन को खतरा उतपन्न करें, उनका सहयोग करने वाले लोगों के विरूद्ध भी महामारी अधिनियम के अन्तर्गत प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करायी जाये तथा मरीज को अस्पताल में भर्ती कराया जाये। यदि कोई ऐसा कोविड पोजीटिव व्यक्ति अस्पताल आने से विरोध करता हो तो उसे जबरदस्ती अस्पताल में लाकर भर्ती कराया जाये तथा उसके घर को हॉटस्पॉट बनाते हुए उसमें आवागमन बंद कराएं।

error: Content is protected !!