Breaking Crime Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

Varanasi Gyanvapi Case : कोर्ट ने खारिज की बिसेन की याचिका, मसाजिद कमेटी के ज्वाइंट सेक्रेटरी पर मुकदमा दर्ज करने के लिए दी थी अर्जी

Varanasi : ‘मस्जिद परिसर (mosque complex) के अंदर शिवलिंग (Shivling) मौजूद है और उसे फौव्वारा (fountain) बनाने के लिए उससे छेड़छाड़ करने के लिए मस्जिद के लोग दोषी हैं।’ इस बात का आरोप लगाते हुए विश्व वैदिक सनातन संघ (Vishwa Vedic Sanatan Sangh) के अध्यक्ष जीतेंद्र सिंह बिसेन (Jitendra Singh Bisen) ने कोर्ट से अंजुमन इंतेजामिया मसाजिद कमेटी (Anjuman Intejamiya Masajid Committee) के ज्वाइंट सेक्रेटरी एसएम यासीन (Joint Secretary SM Yasin) पर 156-3 में मुकदमा दर्ज करने की मांग की थी। इस मांग को मंगलवार को स्पेशल सीजेएम कोर्ट (Special CJM Court) ने निरस्त (canceled) कर दिया।

स्पेशल सीजेएम की कोर्ट में विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख जीतेंद्र सिंह बिसेन के प्रार्थना पत्र पर आज सुनवाई हुई। जीतेंद्र सिंह बिसेन का आरोप था कि ज्ञानवापी परिसर स्थित काशी विश्वेश्वर के मंदिर के ढांचे को अंजुमन इंतेजामिया मसाजिद कमेटी और उनके फॉलोअर्स की तरफ से नुकसान पहुंचाया जा रहा है। इसलिए मसाजिद कमेटी के जॉइंट सेकेट्री एसएम यासीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर विवेचना का आदेश दिया जाए। स्पेशल सीजेएम की कोर्ट ने जीतेंद्र सिंह बिसेन की एप्लीकेशन को खारिज कर दिया है।

You cannot copy content of this page