Breaking Crime Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

Varanasi Gyanvapi Case : विश्व वैदिक सनातन संघ की नयी याचिका पर कल होगी सुनवाई, Petition के जरिए की गई है ये तीन मांग

Varanasi : विश्व वैदिक सनातन संघ (Vishwa Vedic Sanatan Sangh) की अंतरराष्ट्रीय महामंत्री किरण सिंह (International General Secretary Kiran Singh) के द्वारा मंगलवार को सिविल जज सीनियर डिवीजन रवि कुमार दिवाकर (Civil Judge Senior Division Ravi Kumar Diwakar) की कोर्ट में एक नयी याचिका डाली गयी। भगवान आदि विश्वेश्वर विराजमान (Lord Adi Vishweshwar Virajman) के नाम से डाली गयी इस याचिका (petition) कोर्ट ने पढ़ने के बाद प्रकीर्ण वाद (miscellaneous suit) के रूप में दर्ज करने की अनुमति देते हुए सुनवाई के लिए 25 मई की तारीख दे दी है।

बता दें कि ज्ञानवापी मस्जिद-श्रृंगार गौरी प्रकरण के बीच मंगलवार को सिविल जज सीनियर डिवीजन की अदालत में भगवान आदि विश्वेश्वर विराजमान के नाम से एक नया मुकदमा दाखिल किया गया है। विश्व वैदिक सनातन संघ की अंतरराष्ट्रीय महामंत्री और संघ के अध्यक्ष जीतेंद्र सिंह बिसेन की पत्नी किरन सिंह ने भगवान आदि विश्वेश्वर विराजमान के नाम से एक याचिका दायर किया है।

भगवान आदि विश्वेश्वर विराजमान बनाम उत्तर प्रदेश राज्य मुकदमे के माध्यम से वादिनी ने तीन मांग की है। पहली ज्ञानवापी परिसर में तत्काल प्रभाव से मुस्लिम पक्ष का प्रवेश प्रतिबंधित हो। दूसरी ज्ञानवापी का संपूर्ण परिसर हिंदुओं को सौंपा जाए और आखरी ये कि भगवान आदि विश्वेश्वर स्वयंभू ज्योतिर्लिंग जो अब सबके सामने प्रकट हो चुके हैं, उनकी तत्काल पूजापाठ शुरू करने की अनुमति दी जाए।

विश्व वैदिक सनातन संघ के अध्यक्ष जीतेंद्र सिंह बिसेन ने बताया कि अदालत ने हमारा प्रार्थना पत्र मुकदमे के तौर पर एडमिट कर लिया गया है। हमारे वाद पर विपक्षियों को नोटिस जारी करने का आदेश अदालत द्वारा दिया गया है। हमारी जो विशेष और तात्कालिक मांग थी कि भगवान आदि विश्वेश्वर विराजमान की पूजापाठ का आदेश तत्काल दिया जाए। उस मांग पर सुनवाई के लिए 25 मई की तिथि निर्धारित की गई है।

You cannot copy content of this page