Breaking Exclusive Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

आठ महीने में 30.31 करोड़ रुपये से ज्यादा गृहकर वसूली करके वाराणसी नगर निगम ने बनाया रिकॉर्ड : विकास कार्य में तेजी के साथ राजस्व वसूली में भी दिख रही योगी सरकार की हनक

Varanasi : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के देखरेख में वाराणसी का चतुर्दिक विकास हो रहा है। सीएम के लगातार वाराणसी दौरे और विकास कार्यो की समीक्षा व निरीक्षण से नगरीय सुविधाएं बढ़ रही हैं।

लोगों का जीवन सुगम हो रहा है। सभी विभाग जनसुविधा देने के साथ साथ अपनी आय बढ़ने में भी जुटे हैं। ऐसे में वाराणसी नगर निगम के गृहकर की आय पिछले साल के 8 महीनों के मुकाबले 2022 के 8 महीनो में 13 करोड़ रुपये अधिक हुई है।

वाराणसी का विकास मॉडल अब पूरे देश में जाने जाना लगा है। वाराणसी के विकास के पीछे सीएम योगी की लगातार निगरानी और निर्देश रहा है। मुख्यमंत्री का काशी दौरा औसतन एक महीने में एक बार होता है और सभी दौरे में योगी आदित्यनाथ स्थलीय निरीक्षण करके गुणवत्ता के साथ समय सीमा में काम करने की हिदायत देते रहे हैं।

सीएम योगी विभागों को कार्य योजना बनाकर काम करने के साथ ही बेहतर परफॉर्म करने के लिए भी प्रेरित कर रहे हैं। इस क्रम में वाराणसी नगर निगम ने गृहकर में रिकॉर्ड कायम किया है।

वाराणसी नगर निगम के अपर नगर आयुक्त राजीव राय ने बताया कि 1 अप्रैल 2021 से 31 अगस्त 2021 में ये आय महज 17.03 करोड़ रुपये थी। जबकि 1 अप्रैल 2022 से 31 अगस्त तक 2022 तक गृहकर से आय 30.31 करोड़ रुपये हो गई। जो पिछले 8 महीनो की तुलना में इस 8 महीने में 13 करोड़ रुपये अधिक है।

ये लक्ष्य से 35 प्रतिशत अधिक है। उन्होंने बताया कि एक अभियान के तहत व्यावसायिक भवनों, प्रतिष्ठानों, होटलों और घरों का असेसमेंट कराया जा रहा है। बहुत से प्रतिष्ठान पूर्व के निर्माण के अनुसार गृहकर देते थे, लेकिन पिछले कुछ साल में उन्होंने उसी स्थान पर अतरिक्त निर्माण कराया है, जिसका कर वे नगर निगम को नहीं दे रहे थे। शहर के तेजी से हो रहे विकास के साथ सड़कों के चौड़ीकरण, नई सड़कों के निर्माण से भी गृहकर में वृद्धि हुई है।

You cannot copy content of this page