Breaking Crime Varanasi उत्तर प्रदेश 

विजिलेंस टीम के छापेमारी से कैंट रेलवे स्टेशन पर मचा हड़कंप : जनरल बुकिंग काउंटर से लगायात आरक्षण केंद्र और पार्सल कार्यालय पर गहनता से जांच, कर्मचारियों से की पूछताछ

Varanasi : विजिलेंस टीम ने कैंट रेलवे स्टेशन के परिसर में शनिवार को छापेमारी की। इससे रेल कर्मियों में खलबली मच गई। टीम ने आरक्षण कार्यालय में बुकिंग क्लर्क के काउंटर को चेक किया। जनरल बुकिंग काउंटर की जांच के साथ ही टीम ने रेलवे के पार्सल और बुकिंग कार्यालय को भी चेक किया। इस दौरान उन्होंने वहां के रिकार्ड भी चेक किए। टीम ने कुछ रेलवे कर्मचारियों से पूछताछ की।

रेल राजस्व की चोरी की सूचना पर तीन सदस्यीय टीम बीती रात कैंट स्टेशन पहुंची। विजिलेंस टीम के अधिकारियों ने रेल राजस्व चोरी की आशंका में एलटीटी-बनारस स्पेशल, महानगरी और महामना स्पेशल से आए लीज पार्सल की जांच की।

पार्सल पैकेटों को तौल कराने का निर्देश दिया। आरपीएफ की मौजूदगी में पैकेटों का वजन देखा गया। इसके बाद टीम के सदस्य आरक्षण केंद्र गए जहां कैश के साथ ही टिकट की समरी मिलान किया गया। आरक्षण में भी सब कुछ सामान्य रहा। प्लेटफार्म पर ड्यूटीरत चेकिंग स्टॉफ से भी पूछताछ हुई। छापेमारी से दिन भर स्टेशन पर अफरातफरी का माहौल रहा।

बनारस रेलवे स्टेशन पर भी छापा

बनारस रेलवे स्टेशन पर भी शनिवार सुबह वाणिज्य कर विभाग की सचल दल की छापेमारी हुई। काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस में बिना जीएसटी चुकाए माल लाने की सूचना पर हुई कार्रवाई के बाद 30 कार्टन माल जब्त किया गया।प्लेटफॉर्म नंबर छह पर छापेमारी के दौरान रेलवे पार्सल के अधिकारियों व सचल दल के अधिकारियों के बीच अधिकार क्षेत्र को लेकर बहस भी हुई। रेलवे अधिकारियों ने लिखित रूप से माल की जानकारी न देने की बात कही जिसके बाद सचल दल की टीम स्टेशन परिसर से बाहर चली गई। एडिशनल कमिश्नर ग्रेड 1 प्रदीप कुमार के नेतृत्व में एडिशनल कमिश्नर ग्रेड 2 मिथिलेश कुमार शुक्ला, संयुक्त आयुक्त बीआर सिंह, अनिल कुमार, असिस्टेंट कमिश्नर एसपी पाण्डेय, महेश चंद्र, बीके सरोज, वाणिज्य अधिकारी मनीष राय, हरिनाथ यादव, मनोज वर्मा मौजूद रहे।

You cannot copy content of this page