Education Varanasi 

Webinar : वसंत महिला महाविद्यालय द्वारा आयोजित दो दिवसीय ऑनलाइन कार्यशाला का समापन

Varanasi : वसंत महिला महाविद्यालय के समाजशास्त्र विभाग द्वारा “रिडिजाइनिंग सोसाइटी आफ्टर कॉविड -19 द इमर्जिंग पैराडाइम” विषयक पर दो दिवसीय राष्ट्रीय वेबिनार का समापन संपन्न हुआ। वेबिनार के दूसरे दिन प्रथम तकनीकी सत्र के मुख्य अतिथि वक्ता भारत सरकार एनजीटी के सदस्य राजेश कुमार श्रीवास्तव ने पर्यावरण के सरंक्षण पर बल दिया जिससे इस प्रकार की महामारी फिर से हमें आगोश में न ले सके। इसी क्रम में द्वितीय अतिथि वक्ता साक्षर इन्डिया फाउंडेशन के फाउंडर डॉ सुनील मिश्रा ने इस आपदा के समय अपने फाउंडेशन की भूमिका पर बल देते हुए कहा कि साक्षरता ही समाज के लोगों में जागरूकता को बढ़ा सकती है जिससे इस महामारी के फैलाव को रोका जा सकता है। इस सत्र का संचालन तथा अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापन श्रीमती आकांक्षा त्रिवेदी ने किया।

द्वितीय तकनीकी सत्र का प्रारंभ सत्र के मुख्य वक्ता आईएमएस बीएचयू के नेत्र रोग विशेषज्ञ सीनियर असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. राजेंद्र प्रसाद मौर्य के वक्तव्य से हुआ। इन्होंने कोरोना से अपने आंख, नाक, कान, गले आदि को कैसे बचाएं इसके बारे में विस्तार से चर्चा की। इस सत्र की अतिथि वक्ता फिजिकल एजुकेशन विभाग बीएचयू।के एसोसिएट प्रो. टी. ओनिमा रेड्डी ने नए स्वस्थ समाज के निर्माण में फिजिकल फिटनेस की आवश्यकता पर बल देते हुए योगा, कसरत, खेल कूद को दैनिक जीवन में शामिल करने के महत्व पर प्रकाश डाला। इस सत्र का संचालन डॉ संतोष मिश्रा ने किया।

समापन सत्र के मुख्य वक्ता ने समाज में इस महामारी से बचाव एवं फैलाव को रोकने में संचार साधनों की भूमिका के महत्त्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि लोगों के मन में समाचार पत्र पढ़ने को लेकर भ्रांतियां हैं लेकिन हर एक मीडिया हाउस समाचार पत्रों को ग्राहक तक पहुंचाने से पहले सुरक्षा के इंतजाम पुख्ता कर भेजता है। आकांक्षा त्रिवेदी ने दो दिवसीय वेबिनार के प्रतिवेदन को प्रस्तुत किया। महाविद्यालय की प्राचार्या प्रो. अलका सिंह ने वेबिनार पर अपने विचारों को प्रस्तुत कर कहा कि कोरोना से फैली अनेक विसंगतियों को दूर करने में जागरूकता की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण है। अंत में धन्यवाद ज्ञापन कार्यक्रम की संयोजिका एवं विभगाध्यक्षा डॉ राज जालान ने किया। प्रतिभागियों ने इस अवसर पर अपने अनुभव भी बांटे। कॉलेज के विभिन्न विभागों के सहयोगियों की सहभागिता ने वेबिनार को सफल बनाने में अपनी सफल भूमिका निभाई।

You cannot copy content of this page